पीएम मोदी पर कांग्रेस का तंज, पंजाब में ‘जुमलों के बादशाह’ की किसान रैली असफल रही

0
17

kraphy.com-Buy Metal Wall decor Online in India at Best Prices

नई दिल्ली। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘जुमलों का बादशाह’ करार दिया है। बुधवार को कांग्रेस ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी चार साल से लगातार देश के किसानों को गुमराह कर रहे हैं। इसी का नतीजा है कि पंजाब में उनकी किसान रैली पूरी तरह असफल रही। कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि ‘जुमलों के बादशाह’ मोदी जो बोलते हैं वह करते नहीं हैं। उनकी करनी तथा कथनी में जमीन आसमान का फर्क है और देश का किसान इसे समझ गया है, इसलिए पंजाब में मुक्तसर के मलोट में बुधवार को आयोजित उनकी किसान कल्याण रैली में किसान नहीं आए और सिर्फ भाड़े की भीड़ को ही प्रधानमंत्री ने संबोधित किया।

मोदी का झूठ दुनिया में मशहूर: प्रियंका

प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि मोदी असत्य बोलते और उनके झूठे जुमले देश ही नहीं पूरी दुनिया में मशहूर हो चुके हैं। सब जानते हैं कि मोदी जो बोलते हैं उसपर नहीं करते हैं। सत्ता में आने के बाद से ही वह किसानों को झांसा दे रहे हैं और देश के हर कोने का किसान उनकी इस असलियत को समझ चुका है इसलिए अब उनके जुमलों में आकर गुमराह नहीं होता है।

यह भी पढ़ें: मुस्लिम बुद्धिजीवियों से मिलेंगे राहुल गांधी, बीजेपी बोली- कोई साजिश रच रहे हैं क्या

यूपीए की योजनाओं का कॉपी पेस्ट: कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता ने मोदी को यूपीए के समय की योजनाओं की ‘कॉपी पेस्ट करने और उनकी मार्केटिंग’ करने का आरोप लगाया और कहा कि जो योजनाएं कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार ने शुरू की मोदी सरकार उन्हें आज अपना बता रही है।

किसान हितैषी कदमों से उड़ी कांग्रेस की नींद उड़ी: मोदी
बुधवार को पंजाब के दक्षिण-पश्चिमी हिस्से में किसानों और खेतिहर मजदूरों की रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि किसानों को हमारी सरकार से उनका बकाया मिलने से कांग्रेस की नींद उड़ गई है। हमारी सरकार देशभर में किसानों की दशा सुधारने के लिए अनेक कदमें उठा रही है। इसलिए अब कांग्रेस और उनके सहयोगी अब यह नहीं समझ पा रहे हैं कि क्या हो रहा है। वह इस सच्चाई को स्वीकार ही नहीं कर सकते हैं कि इस देश के किसान अब चैन की नींद सोएंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार किसानों और सैनिकों को दिए जाने वाले सम्मान को दोबारा बहाल करने की कोशिश कर रही है। हमने किसानों की आमदनी में 1.5 गुना वृद्धि की है। हम 2022 तक इसे दोगुनी करने की कोशिश करेंगे।

SHARE