इंदिरा को अटल ने दिया था करारा जवाब, ‘पांच मिनट में तो आप अपने बाल भी ठीक नहीं कर सकतीं, फिर..’

0
15

नई दिल्ली। भारतीय सियासत के सबसे सदाबहार नेताओं में शुमार भारत रत्न पंडित अटल बिहारी को सबसे बेहतरीन सियासी वक्ता के तौर पर भी जाना जाता है। उनके मुंह से निकली कई बातें आज भी सियासत के दिग्गजों के भाषणों की शोभा बढ़ाती हैं। जब भी देश के चुनिंदा प्रधानमंत्रियों का जिक्र होता है तो वाजपेयी और इंदिरा गांधी का नाम शीर्ष पर आता है। इंदिरा की सख्त और कद्दावर छवि के चलते आमतौर पर कोई नेता उनसे उलझता नहीं था, लेकिन अटल अपनी बातों से उन्हें भी घेर लेते थे। करीब पांच दशक पहले अटल ने इंदिरा को ऐसा ही एक जवाब दिया था, जिसे आज भी याद किया जाता है। यह मसला जनसंघ को लेकर इंदिरा के बयान से शुरू हुआ था।

इंदिरा और अटल में ऐसे चली जुबानी जंग

अटल-इंदिरा के इस जुबानी वार-पलटवार का जिक्र वरिष्ठ पत्रकार और लेखक किंगशुक नाग की पुस्तक ‘अटल बिहारी वाजपेयी- अ मैन फॉर ऑल सीजंस’ में किया गया है। दरअसल 1970 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने सदन में कहा था, ‘जनसंघ जैसी पार्टी से मैं पांच मिनट में निपट सकती हूं।’ जनसंघ के शीर्ष नेताओं में शुमार अटल बिहारी इंदिरा का यह बयान सुनकर तिलमिला गए और खड़े होकर बोले, ‘क्या कोई लोकतांत्रिक प्रधानमंत्री ऐसा बोल सकता है? मैं कहता हूं पांच मिनट में तो आप अपने बालों को ठीक नहीं कर सकती हैं फिर हमसे कैसे निपटेंगी?’

‘सिर्फ मुस्लिमों से नहीं जुड़ी है भारतीयता’

रिपोर्ट्स के मुताबिक अटल ने इंदिरा की तरफ से जनसंघ की भारतीयता की अवधारणा पर उठाए सवालों का भी जवाब दिया था। उन्होंने कहा था, ‘वह भारतीयता के मायने को ठीक से नहीं समझती हैं, भारतीयता सिर्फ मुस्लिमों से नहीं जुड़ी है। इसमें 52 करोड़ देशवासी समाहित हैं। इसी दौरान अटल ने यह भी कहा था, ‘जब नेहरू गुस्सा होते थे तो वे कम से कम अच्छा भाषण दिया करते थे और हम उनकी चुटकी लेते थे, लेकिन इंदिरा के साथ ऐसा नहीं कर सकते क्योंकि वह खुद गुस्सा हो जाती हैं।’

मोदी से मुकाबले के लिए राहुल से पूछा गया सबसे बड़ा सवाल, नहीं दे पाए जवाब

SHARE